नई दिल्ली | कोरोना वायरस की दूसरी लहर ने एक बार फिर से देश को पाबंदियों की जद में ला दिया है। कहीं वीकेंड लॉकडाउन तो कहीं कर्फ्यू जैसे हालात हैं। कोरोना से उत्तर प्रदेश की भी हालत बहुत खराब है। यूपी में लखनऊ-वाराणसी में कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। इस बीच वाराणसी में कोरोना की स्थिति की समीक्षा के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक अहम बैठक बुलाई है। 
'आज 11 बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वाराणसी में कोरोना के हालातों की समीक्षा के लिए एक बैठक की अध्यक्षता करेंगे। इस बैठक में टॉप अधिकारी, स्थानीय प्रशासन और डॉक्टर्स शामिल होंगे, जो वाराणसी में कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहे हैं।' बता दें कि प्रधानमंत्री वाराणसी लोकसभा सीट से सांसद भी हैं। शनिवार को  वाराणसी में 1664 कोरोना वायरस के नए संक्रमित मिले थे। 
इधर, यूपी में कोरोना दिन पर दिन हावी होता जा रहा है। शनिवार को भी कोरोना संक्रमितों में रिकॉर्ड इजाफा हुआ है। प्रदेश में बीते चौबीस घंटों के दौरान कुल 27357 कोरोना के नए मामले सामने आए और 120 लोगों की मौत हुई। 7831 लोग ठीक होकर डिस्चार्ज किये गये। राज्य में कोरोना के सक्रिय मामलों की तादाद अब 170059 हो गयी है। राजधानी लखनऊ में बीते चौबीस घण्टों में कोरोना संक्रमण के 5913 नए मामले मिले जबकि 2176 लोग ठीक होकर डिस्चार्ज किये गये। 
कोरोना संक्रमण के चलते यूपी सरकार ने साप्ताहिक कोरोना कर्फ्यू का भी ऐलान किया है। शनिवार की शाम आठ बजे से सोमवार सुबह सात बजे तक 35 घंटे का कोरोना कर्फ्यू यूपी में लगाया गया है। आपको बता दें कि लखनऊ में बढ़ते कोरोना केस के बीच यूपी डीजीपी एससी अवस्थी, अपर मुख्य सचिव सूचना नवनीत सहगल और डीएम अभिषेक प्रकाश कोविड पॉजिटिव हो गए हैं। तीनों अफसरों ने खुद को होम आइसोलेट किया है। खनन निदेशक रोशन जैकब लखनऊ की कार्यवाहक डीएम बनाई गईं।